शनिवार, 5 मार्च 2011

चुटकुले (प्रेमी-प्रेमिका)

(१) प्रेमी - जल्दी से शादी कर लेते हैं।
प्रेमिका - पहले अपने हालात तो ठीक हो जाएं।
प्रेमी - तुम क्यों फिक्र करती हो । शादी से कोई असर नहीं पड़ेगा। तुम अपनी नौकरी जारी रखना, मैं अपनी नौकरी की तलाश जारी रखूंगा ……

(२) प्रेमी - क्या मैं सचमुच वो पहला लड़का हूं जिससे तुमने प्यार किया है ?
प्रेमिका - हां, लेकिन सभी लड़के यही सवाल क्यों पूछते हैं ?

(३) एक युवक एक पुलिसवाले के साथ मारपीट, हाथापाई करने के जुर्म में अदालत में पेश किया गया।

जज - क्या हुआ था ?

युवक - जनाब, मैं टेलीफोन बूथ में था और एकदम शान्तिपूर्ण ढंग से अपनी गर्लफ्रेन्ड रीना से बातें कर रहा था। तभी ये सांड जैसा पुलिसिया वहां पहुंच गया और न जाने इसे फोन करने की ऐसी क्या जल्दी थी कि इसने मेरी बांह पकड़कर मुझे बाहर खींचा और सड़क पर धक्का दे दिया।

जज - तो इसलिए तुम आपे से बाहर हो गए और तुमने इसके साथ हाथापाई की।

युवक - जी जनाब ।

जज - ये तो सचमुच इस पुलिसवाले की बहुत ज्यादती है। जब तुम पहले से बूथ में मौजूद थे तो ……

युवक - इसने और भी ज्यादती की जनाब ।

जज - अच्छा ? और भी ज्यादती की ?

युवक - जी । फिर इसने रीना की भी बांह पकड़कर उसे बाहर खींचा और उसे भी सड़क पर धक्का दे दिया ……

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

ब्लॉग प्रस्तुति