शुक्रवार, 13 जनवरी 2012

इस श्लेडी दबंग से खौफ खाते हैं अपराधी जानते हैं क्यो?

बिहार में नीतीश कुमार के सुशासन में महिलाओं को काफी तवज्जो मिल रही है। पंचायत चुनावों में जहां बिहार में महिलाओं को 50 प्रतिशत आरक्षण दिया गया है। वहीं अब महिला पदाधिकारियों को भी भरपूर जिम्मेदारी दी जा रही है।
ऐसी ही एक महिला पदाधिकारी किम हैं। किम 2008 बैच की आईपीएस हैंए लेकिन उनकी जिम्मेदारी इतनी ज्यादा है कि आप भी कहेंगे कि सच में बिहार विकास की ओर अग्रसर हैए और उसमें महिलाओं की काफी भागीदारी है। पटना पूर्वी की एसपी रही किम फिलहाल तीन जिम्मेदारियां एक साथ संभाल रही हैं। जी हांए आपने सही समझा। किम पटना पूर्वी की एसपी हैं। इसके अलावा वे पटना सीटी और ट्रैफिक विभाग के एसपी का दायित्व भी संभाल रही हैं। उल्लेखनीय है कि यह पहली बार है जब किसी महिला आईपीएस के हाथों में पटना सिटी की कमान सौंपी गयी है। किम इसे बखूबी निभा भी रही हैं। यूं कहा जाए तो अतिश्योक्ति नहीं होगी कि इस लेडी दबंग से खौफ खाते हैं अपराधी। ज्ञात हो कि राज्य सरकार ने पिछले साल पटना में तीन आईपीएस को नियुक्त करने का निर्णय लिया था जिसमें किम ;पटना पूर्वीद्धए शिवदीप लांडे ;पटना सीटीद्ध औऱ उपेंद्र कुमार सिंह ;ट्रैफिक एसपीद्ध को नियुक्त किया गया था। पिछले माह लांडे का तबादला अररिया किए जाने के बाद सीटी एसपी का अतिरिक्त प्रभार किम को दे दिया गया था। तत्पश्चात जमुई में नक्सलियों द्वारा सात लोगों की हत्या किये जाने के बाद वहां के एसपी को हटा ट्रैफिक विभाग के एसपी उपेंद्र को जमुई भेज दिया गया। इसके बाद विभाग ने ट्रैफिक एसपी का का अतिरिक्‍त दायित्व भी किम को ही सौंप दिया। अपनी जिम्मेदारी को पुलिस अधीक्षक किम बखूबी निभा रही हैं। शिवनाथ लांडे और उपेंद्र का ट्रांसफर किए जाने के बाद भी उनकी कमी को महसूस नहीं होने दे रही हैं। मूल रूप से उत्तरप्रदेश की रहने वाली आईपीएस किम ने अपनी प्राथमिक शिक्षा लखनऊ से प्राप्त की है। इसके बाद दिल्ली लेडी श्रीराम कॉलेज से ग्रेजुएशन और फिर हिन्दू कॉलेज से पीजी करने के बाद दिल्ली यूनिवर्सिटी से एमण्फिल किया। किम को यूपीएससी में 130वां रैंक आया था।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

ब्लॉग प्रस्तुति